Wednesday, June 27, 2012

मैंने तो बचपन से खुश रहना सीखा था........



मैंने तो बचपन से खुश रहना सीखा था,

तूने मुझे उदासी का मतलब सिखा दिया.
टूटी हर चीज़ को मैंने जोड़ना सीखा था,
तूने मुझे बिखरे हुए का मतलब बता दिया.
मेरी ख्वाहिशें मेरी ज़रूरतों से बड़ी कभी नहीं थी,
तूने मुझे ऊँचाइयों का रास्ता दिखा दिया.
मेरी नाकामियों के पीछे मैंने अच्छाई खोज ली थी,
तुने मेरी अच्छाई को मेरी नाकामियों का बहाना बना दिया.....

Sunday, June 24, 2012

जी करता है पैरों के सारे बंधन तोड़ दूँ........



जी करता है पैरों के सारे बंधन तोड़ दूँ,

जो बनाये है रिश्ते सालों मे उन्हें खुला छोड़ दूँ.
खो जाऊ उस आकाश में जहाँ सिर्फ आशाएं बसती हैं,
और उन्हें पूरी करने की उम्मीद छोड़ दूँ.
उड़ जाऊ वहां, जहाँ समझने समझाने के फ़र्ज़ न हो,
बना लूँ अपना वहां एक जहां, जहां जीने मरने की कोई शर्त न हो........

Sunday, June 17, 2012


हमे तो बचपन से मशहूर होना का शौक था, 

आपकी सोहबत मे हमने रुसवा होना सीख लिया.....

आसमान मे एक भी सुराग न कर सके हम,
लेकिन उस दर्द के साथ जीना सीख लिया......